सेक्स का हमारे जीवन में क्या महत्व है?

0

कुदरत की तरफ से प्यार शायद दुनिया के सभी प्राणियों को दिया गया सबसे बेहतरीन तोहफा है। सेक्स में प्यार की अहम भूमिका है। वहीं पति-पत्नी के संबंधों में सेक्स का अपना ही एक अलग मज़ा है। बल्कि कहा जाये तो पति-पत्नी के वैवाहिक जीवन में सेक्स का अलग ही महत्व होता है। इससे पति-पत्नी के बीच न सिर्फ नजदीकियां बढ़ती हैं बल्कि सेक्स संबंधों में आई मन-मुटाव को भी दूर भी होता है।

जिस तरह हमारे शरीर को भोजन-पानी की आवश्यकता होती है, ठीक उसी तरह से वैवाहिक जीवन में सेक्स की आवश्यकता होती है। सेक्स रिश्तों को मजबूत तो बनाता ही है साथ ही साथ पार्टनर्स में एक दूसरे के लिए प्यार और रोमांस को भी बरकरार रखता है। लव मेकिंग के दौरान आप न सिर्फ उसके शरीर के करीब आते हैं बल्कि उससे मानसिक रूप से भी जुड़ने लगते हैं और समय के साथ अपने पार्टनर्स की पसंद और ना पसंद को भी बखूबी समझने लगते हैं।

संबंधों में सेक्स के महत्व के बारे में हम आपको बताते है कि सही मायने में सेक्स न सिर्फ भौतिक सुख ही नहीं बल्कि मानसिक सुख भी देता है, सेक्स क्रिया हमारे तनाव को दूर करने में काफी मददगार होता है। सेक्स संबंध के माध्यम से ही पति-पत्नी में भावनात्मक जुड़ाव अधिक दिखाई देता है और यदि सेक्स की पूर्ति न हो तो पति पत्नी दोनों के मन में ही ये भावना पनपने लगती है कि उनका पार्टनर उन्हें प्यार नहीं करता है। जिससे कारण वैवाहिक जीवन में दरार आने लगती है। यदि पती-पत्नी के बीच सेक्सुअल रिलेशन अच्छे नहीं होंगे तो परिवार में भी सुख-शांति नहीं होगी।

सुखी वैवाहिक जीवन के लिए सिर्फ शरीर ही नहीं मन से भी सेक्स का गहरा रिश्ता होता है। सेक्स की बीमारी जिन्दगी को पूरी तरह से प्रभावित करती है। क्योंकि सेक्स के बिना हमारा जीवन ठीक उसी प्रकार से पहिए की गाड़ी की तरह है जिस प्रकार पहिए के बिना गाड़ी नहीं चल सकती ठीक उसी प्रकार से वैवाहिक जीवन को चलाने के लिए सेक्स की आवश्यकता होती है जो पति-पत्नी के सहयोग से संभव है। शादी के बाद सेक्स संबंध हमारी जरूरत बन जाता है इसी के माध्यम से ही पति-पत्नी के रिश्ते मजबूत होते हैं। अगर रिश्ते गहरे होंगे तो हमारे परिवार की शाख भी मजबूत होगी।

सेक्स न सिर्फ आनंद की पूर्ति करता है बल्कि यह तनाव को भी दूर करता है आप दिन भर के काम की वजह से चाहे वो बाहर के काम की वजह से हो या अन्य कारणों से अगर आपके जीवन साथी से संबंध अच्छे हैं तो सेक्स करने से, आपके जीवनसाथी को ये एहसास दिलाने से, की आप उससे कितना प्यार करते हो तो, सारी परेशानिया और स्ट्रेस कम हो जाता है। इससे आपका दिमाग, मन और शरीर काफी स्वस्थ और तनावमुक्त हो जाता है।

सेक्स भले ही एक शारीरिक क्रिया है लेकिन इसका असर सीधे आपके भावनाओ पर पड़ता है। जिससे आपके शरीर में उत्तेजना की मात्रा बढ़ जाती है और ये आपके अंदर आपके पार्टनर के लिए प्यार और विश्वास जगाता है और जिस रिश्ते में प्यार और विश्वास होता है वह जीवन की हर कठिनाईयों को पार कर लेता है।

सेक्स क्रिया आपको और आपके पार्टनर को स्वस्थ्य बनाये रखता है। सेक्स करने से शरीर और अधिक एक्टिव होता है। सेक्स आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली, स्वस्थ दिल व उच्च रक्तचाप को भी ठीक रखता है। सेक्स आपको पूर्ण रूप से स्वस्थ्य तो रखता ही है साथ ही आपके रिश्ते को मजबूत भी बनाता है। एक स्वस्थ सेक्स जीवन किसी भी स्त्री अथवा पुरुष के भीतर शांति और प्रसन्नता की भावना पैदा करता है। यह उनके आपसी रिश्तों को मजबूत करता है। यह प्रसन्नता की भावना उनके लिए लंबी उम्र और स्वस्थ जीवन का सबब भी बनती है।

कहने का तात्पर्य यह है कि सेक्स आपके वैवाहिक जीवन का एक अहम हिस्सा तभी बन सकता है जब आप उसे प्यार की ऊर्जा से बनाये रखेंगे। तभी आप अपने वैवाहिक जीवन में एक स्वस्थ सेक्स, अच्छा व्यवहार और बेहतर संबंधों और मजबूत रिश्तों की तरफ बढ़ सकेंगे।

नोट :- अगर सेक्स या स्वास्थ्य से संबंधित आपकी कोई भी समस्या या सवाल है तो उसे आप हमें हिंदी या अंग्रेजी में ईमेल या फ़ोन कर सकते हैं। ईमेल :- info@hashmi.com, फ़ोन नंबर :- +91- 9058429887

Share.

About Author

Leave A Reply